पीठ दर्द या कमर दर्द के लक्षण, कारण,इलाज Lower Back Pain Symptoms, Causes ,Treatment

पीठ दर्द या कमर दर्द के लक्षण, कारण,इलाज Lower Back Pain Symptoms, Causes ,Treatment

What Is Low Back Pain?

निचला कमर दर्द या पीठ दर्द ज्यादातर लोग कभी ना कभी अपने जीवन में अनुभव करते हैं। कमर दर्द हमारी पीठ के छाती की हड्डियों के निचले भाग मैं सबसे ज्यादा होता है जिसे लम्बर रीजन(Lumbar Region) कहा जाता है।

इस जगह पर सबसे ज्यादा दर्द होता है और कुछ भी काम करने में बहुत मुश्किल होती है। वैसे तो निचला कमर दर्द हालांकि अपने आप ठीक हो जाता है परंतु कभी-कभी दर्द कम ना होने पर चिकित्सा की आवश्यकता पड़ती है।

लक्षण Symptoms of Low Back Pain

सामान्य लक्षण Normal Symptoms

यह कुछ सामान्य लक्षण है जिनके लिए आपको ज्यादा घबराने की जरुरत नहीं है या फिर आप बाद में भी अस्पताल या चिकित्सा केंद्र जाकर अपना इलाज करवा सकते हैं –

  1. पेट के निचले भाग में हल्का हल्का जकड़न या चुभन होना।
  2. सीधे खड़े होने मे मुश्किल होना।
  3. कभी कभी किसी खेल की चोट या दुर्घटना के तुरंत बाद दर्द शुरु हो जाता है। ज्यादातर भारी वजन उठाने वाले खेलो में इस प्रकार की मुश्किलें देखी गई हैं।
  4. अगर पीठ का दर्द 2-3 महीने से लंबा हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

कमर दर्द के मुख्य कारण

आपका नौकरी या काम Your Job

अगर आपके ऑफिस के ज्यादातर काम में खींचना, भारी चीजों को उठाना या कुछ ऐसा काम करना जिससे आपके रीड की हड्डी को दबाव महसूस हो कमर के दर्द का मुख्य कारण हो सकता है। कभी-कभी लंबे समय तक ऑफिस के कुर्सी पर बैठे रहने पर भी कमर का दर्द होता है या पीठ मे असुविधा होती हैं।

आपका बैग / शरीर पर पड़ने वाला बोझ Your Bag

कभी-कभी काम के समय या फिर चलते समय जब हम किसी वजनदार सामान को उठाते हैं तो उससे भी हमारे कमर पर दबाव पड़ता है। हम जितना भी सामान उठाते हैं उसका दबाव हमारे रीड की हड्डी के निचले भाग पर पड़ता है जो हमारा कमर है।

कभी-कभी कुछ लोगों को कमर का दर्द उनका खुद का बैग उठाने के कारण भी होता है क्योंकि उनके बैग का वजन ज्यादा होता है और वह लंबे समय तक उसे अपने पीछे लटका कर रखते हैं। ऐसे में किसी चक्के वाले बैक का इस्तेमाल करना  आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होगा।

जरूरत से ज्यादा व्यायाम Over or Excess Workout

कभी कभी जिम जाने वाले या गोल्फ खेलने वाले लोगों को अपने खेल या व्यायाम के दौरान मांसपेशियों पर ज्यादा जोर देने पर कमर का दर्द शुरू हो जाता है। ऐसे समय में या तो कुछ दिनों के लिए आराम करें या कुछ ऐसे आसान व्यायाम करें जिनसे आपके कमर पर दबाव ना पड़े।

आपकी मुद्रा Your posture

आपने एक बात तो सुना ही होगा कि जब भी बैठे हैं सीधा बैठे। इसका सबसे बड़ा कारण यही है कि अगर आपके बैठने की मुद्रा ठीक नहीं है तो इसका सीधा असर आपक रीड की हड्डी पर पड़ता है।

कॉल सेंटर पर या सॉफ्टवेयर कंपनी पर काम करने वाल लोग या ऐसी कंपनियों में काम करने वाले लोग जहां जाता समय खड़े होकर काम करना पड़ता हो वैसे समय में कमर में दर्द एक साधारण बात होती है। ऐसे समय में कुछ देर के लिए ब्रेक लें क्योंकि स्वास्थ्य से बड़ा कुछ नहीं होता है।

रीड़ की हड्डी के डिस्क पर चोट लगना Herniated Disc

रीड की हड्डी छोटे-छोटे हड्डियों के टुकड़ों से जुड़कर बना हुआ है जिन्हें डिस्क कहा जाता है और उन पर चोट लगने से अत्यधिक क्षति पहुंचने का खतरा बना रहता है। रीड की हड्डी के डिस्क पर अत्यधिक दबाव पड़ने पर या चोट लगने पर अत्यधिक पीठ दर्द होता है जिस अवस्था को हेरिन्टेड डिस्क कहा जाता ह।ै

कमर दर्द की कुछ बड़ी परेशानियां Chronic Conditions

कभी कभी कुछ बड़ी परेशानियों के कारण भी कमर के निचले हिस्से में बहुत ज्यादा दर्द होता है। कई प्रकार के कारण इसमें हो सकते हैं जैसे-

  • स्पाइनल स्टेनोसिस एक ऐसी अवस्था होती है जिसमें रीड की हड्डी के अंदर थोड़ी जगह बन जाती है जिससे स्पाइनल नर्व (spinal nerve) पर दवाब पड़ता है जिसके कारण कमर में अधिक दर्द महसूस होता है
  • स्पॉन्डिलाइटिस एक और ऐसी अवस्था है जिसमें रीड की हड्डी पर चोट लगने से पीठ में अत्यधिक जकड़न और दर्द महसूस होता है।
  • फाइब्रोमायल्जिया एक और ऐसी अवस्था है जिसमें मांसपेशियों में और कमर के निचले भाग मे और असहनशील दर्द होता है।

ज्यादातर कमर दर्द का खतरा किन लोगों के साथ बना हुआ रहता है? Who’s at Risk for Low Back Pain?

ज्यादातर लोगों को 25 से 30 वर्ष की उम्र के बाद से कमर दर्द का खतरा बना रहता है। उम्र बढ़ने के साथ-साथ कमर दर्द की शिकायत भी धीरे-धीरे बढ़ कर चले जाते हैं। बढ़ती उम्र के साथ साथ कमर दर्द के कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं जैसे-

  • अत्यधिक वजन बढ़ना या मोटापा बढ़ना
  • ज्यादा लंबे समय तक बैठकर काम करना
  • जरूरत से ज्यादा सामान्य वजन उठाने पर

For more details click here